February 19, 2024   Admin Desk



इंडियन नेशनल यंग एकेडमी ऑफ साइंस ने 9वीं वार्षिक आम सभा की बैठक आयोजित की

नई दिल्ली New Delhi, India: इंडियन नेशनल यंग एकेडमी ऑफ साइंस (आईएनवाईएएस) ने 17 फरवरी को अपनी 9वीं वार्षिक आम सभा की बैठक का आयोजन किया। सीएसआईआर-नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस कम्युनिकेशन एंड पॉलिसी रिसर्च (सीएसआईआर-एनआईएससीपीआर) की निदेशक प्रोफेसर रंजना अग्रवाल इस कार्यक्रम में एक सम्मानित अतिथि के रूप में शामिल हुईं। 

इस अवसर पर, प्रो. रंजना अग्रवाल ने एक गहन व्याख्यान दिया और सीएसआईआर-एनआईएससीपीआर के प्रमुख उद्देश्यों और गतिविधियों के बारे में चर्चा की। उन्होंने बताया कि समाज में वैज्ञानिक स्वभाव विकसित करने के लिए विज्ञान संचार किस प्रकार महत्वपूर्ण है। उन्होंने आईएनवाईएएस का वार्षिक समाचार पत्र का भी विमोचन किया।

आईएनवाईएएस भारत में युवा वैज्ञानिकों की ऐसी एकमात्र मान्यता प्राप्त अकादमी है जिसकी स्थापना वर्ष 2014 में युवा वैज्ञानिकों के बीच विज्ञान शिक्षा और नेटवर्किंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से की गई थी। पाँच वर्षों की इन्‍क्‍यूबेशन अवधि को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद, आईएनवाईएएस ने वर्ष 2020 से एक नए चरण में प्रवेश किया है।

सीएसआईआर-राष्ट्रीय विज्ञान संचार और नीति अनुसंधान संस्थान (सीएसआईआर-एनआईएससीपीआर) भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की एक प्रयोगशाला है। यह विज्ञान संचार के क्षेत्र में विशेषज्ञता रखता है; एसटीआई ने साक्ष्य-आधारित नीति अनुसंधान और अध्ययन पर ध्यान केंद्रित किया है। 

यह विज्ञान और प्रौद्योगिकी पर विभिन्न पत्रिकाओं, पुस्तकों, पत्रिकाओं, समाचारपत्रों और रिपोर्टों को प्रकाशित करता है। यह विज्ञान संचार, विज्ञान नीति, नवाचार प्रणाली, विज्ञान-समाज इंटरफ़ेस और विज्ञान कूटनीति पर भी अनुसंधान करता है। अधिक जानकारी के लिए, कृपया https://niscpr.res.in/ पर जाएं या हमें ट्विटर पर फॉलो करें: @CSIR_NIScPR फेसबुक: CSIR NISCPR-आधिकारिक पेज इंस्टाग्राम: csr_niscpr

Source: PIB



Related Post

Advertisement



Trending News

Important Links

© Bharatiya Digital News. All Rights Reserved. Developed by NEETWEE